What is Inflation? | मुद्रास्फीति क्या होती है?

मुद्रास्फीति क्या होती है?

What is Inflation?



मुद्रास्फीति क्या होती है? | What is Inflation? | Commenly Asked Questions in Govt Jobs exams | Indian Economy GK






हेलो दोस्तों,




नमस्कार, स्वागत है आपका आपके फेवरेट एजुकेशनल ब्लॉग वेबसाइट ज्ञानीराम पर| जहां आप को मिलते हैं बहुत ही उपयोगी और ज्ञानवर्धक जानकारियों भरे लेख| जो आपके आगामी परीक्षाओं की दृष्टि से काफी महत्वपूर्ण साबित हो सकते हैं। और साथ ही आपको मिलते है - Inflation, Inflation in India, what is inflation, Indian Economy, मुद्रास्फीति क्या होती है? | What is Inflation? | Commenly Asked Questions in Govt Jobs exams | Indian Economy GK, Daily doze of GK, Current affairs 2020 in Hindi, Prepration tips for all sarkari jobs 2020, sarkari naukri notification 2020, Hindi GK Tricks, current affairs, current affairs in hindi, current affairs 2020, latest job updates, latest govt. job notifications, admit card, sarkari results, upcoming jobs, sarkari naukri ki tyari kaise kare, free notes, free study material, free hindi study material, इंडिया GK, 


GK in Hindi, Latest govt. jobs alert, Govt. jobs alert 2020, ssc cgl chsl exam preparation tips, General Knowledge in Hindi, Indian History in Hindi, Indus vally civilization, Indian History GK notes, History notes, Indian Ancient History, Bank exam questions, Weekly current affairs in Hindi, GK question answer in Hindi 2020, GK question answer in Hindi, etc.











So, let’s connect with us. In this article, you will get-





मुद्रास्फीति क्या होती है?





मुद्रास्फीति शब्द दो शब्दों से मिलकर बना है मुद्रा और स्फीति।



मुद्रा का मतलब तो आप सभी जानते ही हो मनी या करेंसी जो किसी भी अर्थव्यवस्था का आधार स्तंभ होती हैं। और उसकी विकास दर को मापने का भी एक पैमाना होती है। दूसरा शब्द है स्फीति, इसका अर्थ होता है किसी भी दर में अचानक गिरावट आना


मुद्रास्फीति या इन्फ्लेशन मुद्रा के मूल्य में परिवर्तन की वह स्थिति होती है जिसके अंतर्गत वस्तुओं के मूल्य में तो तेजी से वृद्धि होती है लेकिन मुद्रा के मूल्य में तेजी से गिरावट आती है।



मुद्रास्फीति मौद्रिक आय और वास्तविक आय में अंतर होने के कारण उत्पन्न होती है मुद्रास्फीति की स्थिति में लोन देने वालों को तो नुकसान होता है और लोन लेने वालों को फायदा होता है।


मुद्रास्फीति या इन्फ्लेशन का अनुमान थोक मूल्य सूचकांक जिसको WPI भी कहते हैं, के आधार पर लगाया जाता है।



इस अनुमान मैं सरकार आवश्यक वस्तुओं की महंगाई का हिसाब लगाने के लिए एक लिस्ट तैयार करती है। जिसमें लोगों की जरूरत के हिसाब से हर वस्तु की हिस्सेदारी तय की जाती है। सूची में शामिल की जाने वाली वस्तुओं का औसत मूल्य निकाला जाता है। और इसी मूल्य को थोक मूल्य सूचकांक कहा जाता है जिसके आधार पर मुद्रास्फीति की गणना की जाती है।






____________________________________________________
English View





What is Inflation?



The word inflation is made up of two words, currency and inflation. The meaning of currency is that you all know money or currency which are the pillars of any economy. And there is also a scale to measure its growth rate. The second word is inflation, it means a sudden drop in any rate. Inflation is a situation of change in the value of a currency under which the price of goods increases rapidly but the value of the currency declines rapidly.


Inflation arises due to the difference between monetary income and real income. In the event of inflation, the lender is at a disadvantage and the borrower benefits. Inflation is estimated on the basis of the Wholesale Price Index, also known as WPI.


In this estimate, the government prepares a list to calculate the inflation of essential commodities. In which the share of everything is decided according to the needs of the people. The average value of items to be included in the list is derived. And this price is called the wholesale price index, on the basis of which inflation is calculated.












**************************

Stay connects with us, Stay update with the world...!

Thanks...



Post a Comment

0 Comments

Search Any Topic