Interesting Facts About The Constitution of India ( जानिए भारतीय संविधान से जुड़ी रोचक जानकारियां)

Interesting Facts About The Constitution of India
(जानिए भारतीय संविधान से जुड़ी रोचक जानकारियां)



Important Facts About The Constitution of India ( जानिए भारतीय संविधान से जुड़ी रोचक जानकारियां)




हेलो दोस्तों,

भारत में sarkari-naukri की तैयारी कर रहे सभी प्रतिभागियों के लिए भारतीय संविधान (The Constitution of India) के बारे में जानना उतना ही जरूरी है जितना की किसी खेल को खेलने से पहले उसके नियमों को जानना जरूरी होता है| 

जिस प्रकार बिना खेल के नियमों को जाने हम उस खेल में एक भी कदम नहीं उठा सकते| ठीक उसी प्रकार भारतीय संविधान (The Constitution of India) के बारे में जाने बिना भारत देश में किसी भी sarkari-naukri की तैयारी करना बेबुनियाद माना जाता है|

दोस्तों हम लोग भारत देश के जिम्मेदार नागरिक है | और भारतीय परीक्षाओं की तैयारी कर रहे हैं| इसलिए यह हमारा कर्तव्य होने के साथ ही नैतिक धर्म भी है कि हमें हमारे देश के संविधान के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां मालूम हो|

आज हम आप सभी को भारतीय संविधान (The Constitution of India) से जुड़े कुछ ऐसे रोचक महत्वपूर्ण और परीक्षा उपयोगी जानकारियां बताएंगे, जो बहुत ही दिलचस्प और परीक्षा की दृष्टि से महत्वपूर्ण होगी|



तो आइए शुरू करते हैं-



1. भारतीय संविधान संसार का सबसे बड़ा लिखित संविधान है|

2. संविधान को 26 नवंबर 1949 के दिन भारतीय संविधान के रूप में स्वीकार किया गया था|

3. भारतीय संविधान एक बहुत लंबी प्रक्रिया के तहत निर्मित हुआ था| भारतीय संविधान को बनने में 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन लगे थे|

4. भारतीय संविधान एक सभा द्वारा बनाया गया था| इस सभा को संविधान सभा के नाम से जाना जाता है|

5. संविधान सभा में कुल मिलाकर 389 सदस्य थे| जिनमें से 292 सदस्य ब्रिटिश शासन से संबंधित थे 93 सदस्य देसी रियासतों से शामिल किए गए थे और 4 अन्य सदस्य थे|

6. भारतीय संविधान सभा की पहली बैठक 9 दिसंबर 1946 के दिन हुई थी|

7. श्री सच्चिदानंद सिन्हा को भारतीय संविधान सभा की प्रथम बैठक में अस्थाई अध्यक्ष के रूप में चुना गया था|

8. भारतीय संविधान सभा के प्रथम निर्वाचित अध्यक्ष डॉ राजेंद्र प्रसाद थे|

9. भारतीय संविधान के निर्माण में कुल मिलाकर 63,96,729/- रुपए का खर्चा हुआ था|

10. भारतीय संविधान को अर्ध संघीय संविधान कहा जाता है| क्योंकि भारतीय संविधान ऊपरी तौर पर संघात्मक है लेकिन इसकी विषय वस्तु एकात्मक है|

11. भारतीय संविधान देश के प्रत्येक नागरिक को एकहरी नागरिकता प्रदान करता है|

12. भारतीय संविधान के निर्माण के लिए संविधान सभा द्वारा कई प्रकार की समितियां गठित की गई थी, जो विभिन्न कार्य संपादित करती थी| प्रत्येक समिति का एक अध्यक्ष होता था|कुछ महत्वपूर्ण समितियां निम्न प्रकार है-

     समिति का नाम                      अध्यक्ष
     नियम समिति                   डॉ राजेंद्र प्रसाद
     परामर्श समिति                 सरदार वल्लभभाई पटेल
     झंडा समिति                     जे बी कृपलानी
     प्रारूप समिति                  डॉ भीमराव अंबेडकर
     संचालन समिति                डॉ राजेंद्र प्रसाद
     राज्य समिति                    पं. जवाहर लाल नेहरु

13. भारतीय संविधान के प्रारूप निर्माण का श्रेय भारत के पहले विधि मंत्री डॉ बी आर अंबेडकर को जाता है, जो संविधान सभा में प्रारूप समिति के अध्यक्ष भी थे|

14. 24 जनवरी 1950 का दिन ऐतिहासिक दिन था जिस दिन भारतीय संविधान सभा की अंतिम बैठक का आयोजन किया गया था| इसी दिन संविधान पर संविधान सभा के सभी सदस्यों द्वारा हस्ताक्षर किए गए थे|

15. भारतीय संविधान के मूल भाग में में 22 अध्याय 395 अनुच्छेद और 8 अनुसूचियां थी|



भारतीय संविधान (The Constitution of India) भारत देश का सबसे बड़ा कानून है और सभी कानूनों की जननी है| भारतीय संसद को संविधान में संशोधन करने की शक्ति प्राप्त है| लेकिन वह भी भारतीय संविधान के मौलिक ढांचे से छेड़छाड़ नहीं कर सकती है| 

इस प्रकार हम कह सकते हैं कि भारतीय संविधान (The Constitution of India) भारत के सभी नागरिकों के मौलिक अधिकारों की रक्षा करता है और भारतीय न्याय व्यवस्था भारतीय संविधान के मूल ढांचे की सुरक्षा करती है|



तो दोस्तों यह थी भारतीय संविधान (The Constitution of India) से जुड़े रोचक महत्वपूर्ण और परीक्षा की दृष्टि से अत्यंत महत्वपूर्ण जानकारियां| 


आपको यह जानकारियां और यह आर्टिकल कैसा लगा| हमें कमेंट बॉक्स में जरूर बताएं और अनजाने में हुई किसी त्रुटि के बारे में भी हमें अवगत करें|


धन्यवाद|



Post a Comment

0 Comments

Search Any Topic